Sunday, July 3, 2011

नए ब्लॉगर मैदान में लाएगी हिंदी ब्लॉगिंग गाइड

हिंदी ब्लॉगिंग गाइड की तैयारी का मक़सद यह है कि नए ब्लॉगर्स को मैदान में लाया जा सके क्योंकि गुटबाज़ी, पक्षपात और कम पात्र लोगों को ईनाम से नवाज़े जाने के हादसों ने बहुत से पुराने मगर कमज़ोर हिंदी ब्लॉगर्स के क़दम उखाड़ दिए हैं।
कुछ लोग ब्लॉगिंग के मैदान में आए थे मिशन की ख़ातिर और फिर लग गए नोट बनाने में। माल के लालच में ये लोग अपना ईमान और ज़मीर तक गिरवी रख चुके हैं या हो सकता है कि उसे बिल्कुल ही बेच डाला हो ?
इसके बावजूद वे ख़ुद को किसी मसीहा की मानिंद ही पेश करते हैं।
उनकी अदा और अदाकारी से कोई भी भ्रम में नहीं पड़ता। अलबत्ता वे ख़ुद को ही फ़रेब दे रहे हैं। वे अपनी आय और अपने संबंधों के विस्तार के लिए ही ब्लॉगिंग कर रहे हैं। ब्लॉगिंग का इस्तेमाल आजकल निजी ख़ुशी के लिए ही ज़्यादा हो रहा है। इन लोगों को समाज के सरोकारों से कोई सरोकार ही नहीं है।
एक मुख्यमंत्री के ख़ून सने हाथों से ईनाम पाने के लिए पुराने मीडियाकर्मियों से लेकर न्यूमीडिया के फ़नकार तक सभी बिछे जा रहे थे। यह मंज़र भव्य था और सभी ने इसे देखा है। यही लोग एग्रीगेटर चला रहे हैं। ऐसे में ये किसी भी ऐसी आवाज़ को भला कैसे बर्दाश्त कर सकते हैं, जो सच कहती हो।
ईमानदारी मुश्किल है, इसीलिए लोग बेईमान हो जाते हैं क्योंकि लोग ईमानदार बनकर ‘बहुमत‘ को अपने खि़लाफ़ करना नहीं चाहते।
झूठ-फ़रेब और दग़ा को साहित्यिक भाषा में कूटनीति कहा जाता है। अभी तक तो मशहूर और सफल हिंदी एग्रीगेटर्स कम या ज़्यादा इसी कूटनीति को ही अपनी नीति बनाए हुए हैं।
बेईमान बहुल लोगों की सेवा करते करते ईमानदार भी उनकी चपेट में आ जाते हैं। इसी के साथ अच्छे लोग भी ब्लॉगिंग कर रहे हैं। उनका दायरा और उनकी ताक़त बढ़ेगी तो ईमानदारी का चलन भी बढ़ेगा।
उम्मीद पर दुनिया क़ायम है।
एग्रीगेटर न हो तो भी ब्लॉगिंग की जा सकती है और लोग ब्लॉग्स तक पहुंचते भी हैं। गूगल ब्लॉगर्स को पाठक भी देता है बशर्ते कि लेख उपयोगी हो और वह ज़्यादातर लोगों की ज़रूरत को पूरा करता हो।
ब्लॉगिंग के ज़रिए से सच कहना आज आसान हो गया है। सच सामने आकर ही रहेगा। अब यह किसी के रोके से रूकने वाला नहीं है।
नए ब्लॉगर आएंगे तो हिंदी ब्लॉगिंग को एक नई ऊर्जा मिलेगी। लोग बढ़ेंगे तो हालात भी आज जैसे न रहेंगे। हिंदी ब्लॉगिंग गाइड लिखने का मक़सद यही है कि हिंदी ब्लॉगिंग को एक सार्थकता दी जाए। उसके ज़रिए से लोगों की सोच को बेहतर बनाया जाए।
हरेक हिंदी ब्लॉगर से इसमें सहयोग की अपील है।
शुक्रिया !

5 comments:

महेश बारमाटे "माही" said...

बहुत सार्थक लेख है...
इसमें आपके अनुभवों की झलक साफ़ दिखाई देती है.

नए ब्लोग्गेर्स को नया रास्ता दिखाती हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड के लिए शुभकामनाएं...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

मेरा मानना है कि पुराने समर्पित ब्लॉगर्स का सम्मान और नयों का स्वागत और हौसलाअफ़ज़ाई करेगी हिन्दी ब्लॉगिंग गाइड।
--
आइए इस मुहिम में आप भी शामिल हो जाइए न!

Sawai SIingh Rajpurohit said...

आदरणीय डा.अनवर जमालजी
जानकर् अच्छा लगा की आप हम जैसे छोटे ओर नए ब्लोग्गेर्स के लिए भी कुछ कर रहे!
इस का प्रणाम है "हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड"

आपका आभार

Sawai SIingh Rajpurohit said...

आदरणीय डा.अनवर जमालजी

यू पी (उ.प) में 1 करोड़ लोगो का सुप्पोर्ट चहिये 8 नए स्लॉटर के लाइसेन्स को रद्द करने के लिए! अगर ऐसा न हुआ तो हजारो के हिसाब से ग़ो माता मार दी जाएगी .. उसके लिए सब लोग 0522-3095743 इस नंबर पर मिस कॉल करो इस (मेसेज) मेसेज को प्लीज़ शेर कर दो . ताकि गोउ माता की रक्षा हो जाए . कृपया अपना अपना योगदान दो.

गो माता की रक्षा की मुहिम में आप भी शामिल हो जाइए न!

जय गौ माता जय गौ माता जय गौ माता

Sawai SIingh Rajpurohit said...

आदरणीय डा.अनवर जमालजी
आपका यह प्रयास उत्तम है.मेरी तरफ से आपको इस शुभ कार्य के लिये मगलकामना!