Friday, May 27, 2011

सेहतमंद रहना है तो शादी करो -Dr. Anwer Jamal

नई जानकारी बहुत सी पुरानी  परम्पराओं के औचित्य को ही सिद्ध करती हैं जैसे कि यह जानकारी

आमतौर पर माना जाता है कि शादी के बाद स्वास्थ्य को लेकर एक तरह की उदासीनता आ जाती है, लेकिन वैज्ञानिकों ने अपने नए शोध में इस बात/तथ्य को गलत साबित कर दिया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि शादीशुदा जोड़े अकेले लोगों की तुलना में ज्यादा फिट रहते हैं।
यूके की कार्डिफ यूनिवर्सिटी के इस शोध के मुताबिक उनके स्वास्थ्य में सुधार ही आता जाता है।
शोध की मानें तो शादीशुदा पुरूषों के शारीरिक रूप से स्वस्थ्य रहने का राज है उनकी बीवीयां, जो उनके स्वस्थ्य जीवनचर्या के लिए जिम्मेदार होती हैं। वहीं औरतों के बारे में बात करें तो शादी के बाद वो अपने वैवाहिक जीवन में अपनी कीमत समझती हैं जिससे वो भावनात्मक रूप से स्वस्थ्य रहने लगती है। शादी के बाद पति-पत्नी दोनों शारीरिक और मानसिक तौर पर संतुष्ट रहने लगते हैं और यही बात उनके स्वास्थ्य में सुधार लाने की वजह बनती है. खास बात यह है कि जैसे-जैसे उम्र बढ़ती जाती है, वैसे-वैसे स्वास्थ्य भी अच्छा होता जाता है। लेकिन यह बात सिर्फ शादीशुदा लोगों पर ही लागू होती है। इसलिए अगर आप शादी करने की सोच रहे हैं, तो जल्दी करिए। 

5 comments:

नीरज जाट said...

मेरे लिये एकदम गलत खबर।

DR. ANWER JAMAL said...

@ नीरज जी ! आपके लिए इसमें एक चेतावनी छिपी है।
ख़ुशी के अहसास के लिए आपको जानना होगा कि ‘ख़ुशी का डिज़ायन और आनंद का मॉडल‘ क्या है ? - Dr. Anwer Jamal

शालिनी कौशिक said...

bahut badhiya prastuti.

किलर झपाटा said...
This comment has been removed by the author.
किलर झपाटा said...

जमाल भाई, बात तो आपने एकदम सही कही है।
आप ने जब से बतलाया है तब से मेरा भी मन होने लगा है शादी करने को। सच में बीबी लोग कितनी क्यूट होती हैं यार। मगर आप तो जानते ही हो मेरे प्रोफ़ेशन के बारे में। वो तो बेचारी मेरे लिये खाना बना बना कर ही परेशान हो जायेगी। है ना ? हा हा।